{ads}

भारतीय सेना के जवान जितेंद्र सिंह शेखावत युवाओं को देश सेवा के लिए कर रहे प्रेरित

 

झुंझुनू। जितेंद्र सिंह शेखावत, एक 27 वर्षीय सैनिक, राजस्थान के खूबसूरत शहर झुंझुनू के रहने वाले हैं। उनके माता-पिता, सतवीर सिंह और राज कंवर, एक सैनिक के रूप में उनकी पूरी यात्रा में उनके निरंतर सहयोग रहे हैं।

एक सैनिक के रूप में जितेंद्र की यात्रा जयपुर, राजस्थान में मार्च 2017 को शुरू हुई, जब उन्होंने अपने देश की सेवा करने के लिए सेना में शामिल होने का फैसला किया। वह राष्ट्र और उसके मूल्यों की रक्षा के लिए सेना के समर्पण से अत्यधिक प्रेरित थे। उनका प्राथमिक मकसद हर व्यक्ति को एक सैनिक बनने के लिए प्रेरित करना और भारत को एक बेहतर जगह बनाने में योगदान देना था।

जितेंद्र के लिए सबसे बड़ी प्रेरणा ब्रिगेडियर सौरभ सिंह शेखावत थे, जो सेना में उनके वरिष्ठ थे। ब्रिगेडियर सौरभ की वीरता और राष्ट्र के प्रति समर्पण हमेशा जितेंद्र के लिए प्रेरणा का स्रोत रहा है।

एक सैनिक होने के अलावा, जितेंद्र ने भारोत्तोलन में उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है, अपने असाधारण प्रदर्शन के लिए कई पदक और पुरस्कार जीते हैं। कठिन शारीरिक प्रशिक्षण के लिए उनका प्यार उनके पसंदीदा शौकों में से एक बन गया है।

अपने पेशे की चुनौतियों के बावजूद, जितेंद्र को अपने परिवार और दोस्तों, विशेष रूप से अपनी माँ और भाई रविंद्र सिंह शेखावत से अटूट समर्थन मिला है, जिन्होंने हमेशा उन्हें अपने सपनों को आगे बढ़ाने के लिए प्रोत्साहित किया है।

जितेंद्र की भविष्य की योजना अधिक से अधिक लोगों को भारतीय सेना में शामिल होने और गर्व के साथ देश की सेवा करने के लिए प्रेरित करना है। वह हर व्यक्ति को एक सैनिक बनने और भारत की प्रगति में योगदान देने के लिए प्रेरित करना चाहते हैं।

अंत में, जितेंद्र सिंह शेखावत एक सच्चे देशभक्त हैं जिन्होंने अपना जीवन अपने देश की सेवा के लिए समर्पित कर दिया है। उनकी बहादुरी, समर्पण और अपने पेशे के प्रति जुनून उन्हें कई लोगों के लिए एक सच्ची प्रेरणा बनाते हैं। हम उनकी प्रतिबद्धता को सलाम करते हैं और उनके भविष्य के प्रयासों के लिए शुभकामनाएं देते हैं।

Tags

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad

Advt

Below Post Ad

Advt

Copyright Footer

Advt